Business

rented house then know the 9 benefits of home rental agreement । किराए के मकान में रहते हैं, तो जानिए होम रेंटल एग्रीमेंट के 9 फायदे

[ad_1]

Benefits of home rental agreement- India TV Paisa
Photo:CANVA किराए के मकान में रहने पर होम रेंटल एग्रीमेंट के फायदे

House rental agreement benefits: किसी और शहर में नौकरी मिलने पर या फिर फाइनेंशियल तरीके से मजबूत नहीं होने के कारण लोग अपना घर नहीं खरीद पाते हैं। आज के समय में हर छोटे-बड़े शहर में लोग किराए के मकान में रहते हैं। घर किराए पर लेते समय कई तरह के टर्म एंड कंडीशन होते हैं जिसे मानना बेहद जरूरी है। इसके अलावा House rental agreement बनवाकर आप इससे कई तरह के फायदे उठा सकते हैं। अधिकतर लोग घर किराए पर मिलने के बाद इन चीजों के ऊपर ध्यान नहीं देते हैं। अगर आपने भी किराए पर घर लिया है तो यहां जानिए होम रेंटल एग्रीमेंट के 9 फायदे।

1. होम रेंटल एग्रीमेंट से धोखाधड़ी और जालसाजी से बचना है आसान

किराए पर मकान लेते समय होम रेंटल एग्रीमेंट बनवाने के बाद किसी भी तरह की धोखाधड़ी और जालसाजी से बचना बेहद आसान है। इसमें केवल किराएदार ही नहीं बल्कि मकान मालिक का भी फायदा है। 

2. किराया वसूलना होता है आसान

होम रेंटल एग्रीमेंट बन जाने के बाद मकान मालिक को किराया वसूलना बेहद आसान होता है। होम रेंटल एग्रीमेंट के अनुसार ही मकान मालिक हर महीने किराएदार से एक निश्चित रकम की वसूली करते हैं। इससे ज्यादा पैसे लेने पर किरायादार शिकायत कर सकते हैं।

3. किराएदार के लिए इस तरह फायदेमंद

अगर आप किराए पर रहते हैं और होम रेंटल एग्रीमेंट आपके पास है तो इसके जरिए टैक्स सेविंग कर सकते हैं। आइटीआर फाइल करते समय हाउस रेंटल एग्रीमेंट के आधार पर लाखों रुपए की टैक्स सेविंग कर पाना बेहद आसान है। 

4. मकान मालिक हो जाते हैं चिंता मुक्त

किसी भी व्यक्ति को घर किराए पर देने के बाद होम रेंटल एग्रीमेंट बनवाते समय उनसे जरूरी डॉक्यूमेंट लेने के बाद किराएदार के बारे में पूरी जानकारी मिल जाती है। किराएदार फ्रॉड तो नहीं है इसकी भी जांच कर पाना बेहद आसान है। इसके अलावा किराएदार घर के ऊपर कब्जा नहीं कर सकते हैं।

5. एग्रीमेंट के अनुसार तय समय तक ही रह सकते हैं घर में

अगर आपने किसी को किराए पर घर दिया है और होम रेंटल एग्रीमेंट है तो आप उस किराएदार को एक निश्चित समय तक ही किराए पर रख सकते हैं। इस समय अवधि के बाद आप चाहे तो किराएदार को घर से जाने के लिए कह सकते हैं। आमतौर पर हमारे देश में 11 महीने के लिए ही लोग रेंट एग्रीमेंट बनवाते हैं।

6. अनिश्चित किराए की बढ़ोतरी से बचना है आसान

कई बार ऐसा भी होता है जब एक ही घर को किराए पर लेने के लिए 1 से अधिक लोग तैयार हो तो मकान मालिक अपने अनुसार कभी भी किराया बढ़ा देते हैं। अगर आपके पास होम रेंटल एग्रीमेंट हो तो इससे बचना बेहद आसान है। होम रेंटल एग्रीमेंट के अनुसार तय समय के बाद ही मकान मालिक घर का किराया बढ़ा सकते हैं।

7. बार-बार किराएदार खोजने से बचने के लिए होम रेंटल एग्रीमेंट है जरूरी

होम रेंटल एग्रीमेंट होने के बाद मकान मालिक घर को किराए पर देने के लिए बार-बार किराएदार खोजने की चिंता से मुक्त हो जाते हैं। रेंट एग्रीमेंट की समय अवधि खत्म होने पर चाहे तो मकान मालिक किसी और किराएदार को मकान दे सकते हैं। 

8. घर शिफ्ट करना है आसान

अगर आपने भी कहीं किराए पर घर लिया है और आपकी नौकरी किसी और शहर या राज्य में होने वाली है तो आप आसानी से रेंट एग्रीमेंट के अनुसार घर शिफ्ट कर सकते हैं। हालांकि आपको घर खाली करते समय सभी बकाया रकम देने होंगे।

9. किराएदार के लिए है फायदे का सौदा

होम रेंटल एग्रीमेंट के अनुसार एक निश्चित समय हो जाने के बाद किराएदार अपने अनुसार कहीं भी घर ले सकते हैं। यानी मकान मालिक उन्हें जबरदस्ती किराया देने के लिए दबाव नहीं डाल सकते। किसी और जगह पर कोई घर या मकान कम किराए में मिलने पर आप रेंट एग्रीमेंट की समाप्ति होने के बाद इसे आसानी से बदल सकते हैं।

Latest Business News

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *