Business

हर महीने अकाउंट में आएंगे पैसे, LIC का जीवन अक्षय-VII प्लान के नियम और लाभ

[ad_1]

LIC Jeevan Akshay-VII annuity plan - India TV Paisa
Photo:FILE LIC Jeevan Akshay-VII annuity plan

भविष्य की सुरक्षा के लिए भारतीय जीवन बीमा निगम को देश में सबसे विश्वसनीय कंपनी माना जाता है। एलआईसी के कई प्लांस बरसों से लोगों की विभिन्न जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। इसमें एलआईसी के कई मंथली इनकम और पेंशन प्लान भी शामिल हैं। इसी बीच आजकल एलआईसी के एक प्लान की काफी चर्चा है। यह प्लान है एलआईसी जीवन अक्षय-7, यह एक नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, इंडिविजुअल इमीडिएट एन्युइटी प्लान है। जिसे 28 फरवरी, 2023 को लॉन्च किया गया था। इस प्लान को ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से खरीदा जा सकता है।

यह एक इंस्टेंट एन्युटी प्लान है जिसमें पॉलिसीधारक के पास एकमुश्त राशि के भुगतान पर 10 उपलब्ध विकल्पों में से एन्युटी के प्रकार का चयन करने का विकल्प होता है। पॉलिसी की शुरुआत में वार्षिकी दरों की गारंटी दी जाती है।

LIC के जीवन अक्षय-VII एन्युटी विकल्पः

इस योजना के तहत उपलब्ध वार्षिकी विकल्प निम्नानुसार हैं

  • विकल्प 1- जीवन के लिए तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 2- 5 साल की गारंटी अवधि और उसके बाद जीवन के साथ तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 3- 10 साल की गारंटी अवधि और उसके बाद जीवन के साथ तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 4- 15 साल की गारंटी अवधि और उसके बाद जीवन के साथ तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 5- 20 साल की गारंटी अवधि और उसके बाद जीवन के साथ तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 6- खरीद मूल्य की वापसी के साथ जीवन के लिए तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 7- जीवन के लिए तत्काल वार्षिकी 3ः प्रति वर्ष की साधारण दर से बढ़ रही है।
  • विकल्प 8- प्राथमिक वार्षिकीग्राही की मृत्यु होने पर द्वितीयक वार्षिकीग्राही को वार्षिकी के 50 प्रतिशत के प्रावधान के साथ जीवन भर के लिए संयुक्त जीवन तत्काल वार्षिकी।
  • विकल्प 9- जीवन के लिए संयुक्त जीवन तत्काल वार्षिकी जिसमें वार्षिकी के 100ः के प्रावधान के साथ जब तक वार्षिकी लेने वालों में से एक जीवित रहता है।
  • विकल्प 10- जीवन के लिए संयुक्त जीवन तत्काल वार्षिकी जिसमें वार्षिकी के 100ः के प्रावधान के साथ जब तक वार्षिकी लेने वालों में से एक जीवित रहता है और अंतिम उत्तरजीवी की मृत्यु पर खरीद मूल्य की वापसी होती है।

याद रखें कि एक बार चुने गए वार्षिकी विकल्प को बदला नहीं जा सकता।

Latest Business News

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *