LIVE KHABAR

विपक्षी एकजुटता की राह में रोड़ा! नीतीश से मिलने के बाद पटनायक बोले- गठबंधन पर कोई चर्चा नहीं

[ad_1]

नीतीश कुमार और नवीन पटनायक- India TV Hindi

Image Source : PTI
नीतीश कुमार और नवीन पटनायक

2024 लोकसभा चुनाव को लेकर विपक्षी दल एकजुट होने का प्रयास कर रहे हैं। इस बीच, ममता बनर्जी के बाद अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक से आज मंगलवार को उनके आवासा पर मुलाकात की। दोनों मुख्यमंत्रियों ने साथ में लंच किया। हालांकि, गठबंधन बनाने के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई। नवीन पटनायक ने कहा, “मुझे खुशी है कि नीतीश जी यहां भुवनेश्वर आए। हम पुराने दोस्त और सहकर्मी हैं। हमने वाजपेयी सरकार के साथ मिलकर काम किया है। हम बिहार के पर्यटकों के लिए पुरी में जमीन के आवंटन पर चर्चा कर रहे थे।”

ओडिशा के मुख्यमंत्री ने कहा कि भगवान जगन्नाथ के मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले बिहार के पर्यटकों और तीर्थयात्रियों के लिए पुरी में बिहार सरकार को 1.5 एकड़ जमीन मुफ्त दी जाएगी। बीजेपी विरोधी दलों के संभावित गठबंधन में बीजद के शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने साफ किया, आज किसी भी गठबंधन के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई।

राजनीतिक चर्चा पर क्या बोले नीतीश?

नीतीश कुमार ने कहा कि नवीन पटनायक और उनके पिता बीजू पटनायक से उनके पुराने संबंध हैं। बिहार के सीएम ने कहा, “मैं अक्सर नवीन जी से मिलता रहता हूं। हालांकि, कोविड-19 महामारी के कारण मैं उनसे नहीं मिल पा रहा था। इसलिए मैं उनसे मिलना चाहता था।” यह पूछे जाने पर कि क्या दोनों शीर्ष नेताओं के बीच कोई राजनीतिक चर्चा हुई, इस पर मुस्कुराते हुए जदयू नेता ने जवाब दिया कि राजनीतिक बातों के बारे में चिंता न करें। हमारे बीच इतना मजबूत रिश्ता है, राजनीति के बारे में सोचने की जरूरत नहीं है।

पटनायक से ममता ने भी की थी मुलाकात

डॉन से नेता बने आनंद मोहन सिंह की रिहाई पर मीडिया के सवाल का जवाब देते हुए नीतीश कुमार ने कहा, “अगर किसी को दोषी ठहराया जाता है और फिर उसे कठोर कारावास मिलता है। उसके बाद उसे जेल से रिहा कर दिया गया। 2016 के केंद्रीय नियम के बाद यह पूरे देश में हो रहा है।” गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने इसी साल मार्च में नवीन पटनायक से मुलाकात की थी। उस दौरान भी दोनों नेताओं ने तीसरे मोर्चे या किसी गठबंधन पर किसी तरह की चर्चा से इनकार किया था हालांकि, उन्होंने भारत में संघीय ढांचे को मजबूत करने की वकालत की थी।

https://www.youtube.com/watch?v=DYiK1STOfHA

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *