Business

PNB and ICICI hike FD Rates amid RBI order on 2000 rupees currency notes | 2000 रुपये के नोट पर मची हलचल के बीच दो बड़े बैंकों ने लिया बड़ा फैसला, आपको होगा जबर्दस्त फायदा

[ad_1]

2000 rupees note- India TV Paisa
Photo:FILE 2000 Rupees Note

बीते दो दिनों से देश भर में रिजर्व बैंक का एक फैसला सबसे अधिक चर्चा में है। 2000 रुपये के नोट की विदाई तय हो गई है। आरबीआई ने 2000 रुपये के नोट को सर्कुलेशन से बाहर करने की घोषणा कर दी है। देश वासी 30 सितंबर तक देश के किसी बैंक में जाकर अपने 2000 रुपये के नोटों को बदल सकते हैं या फिर अपने खाते में जमा कर सकते हैं। 

रिजर्व बैंक की इस हलचल के बीच देश के दो बड़े बैंकों पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और आईसीआईसीआई बैंक (ICICI) ने आम लोगों के लिए एक बड़ी राहत की घोषणा की है। बीते कुछ समय से थमी एफडी की ब्याज दरों में एक बार फिर वृद्धि कर दी गई है। बता दें कि रिजर्व बैंक द्वारा पिछली मौद्रिक समीक्षा में रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया था। जिसके चलते बैंकों की ओर से भी एफडी दरों (Fixed Deposit) को लेकर कोई घोषणा नहीं की गई थी। 

PNB ने बढ़ाई FD दरें 

देश के प्रमुख सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक की ओर से फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दरों में बदलाव कर दिया है। बैंक ने विभिन्न समयावधि की एफडी में ब्याज की दरें बढ़ाई हैं। वहीं कुछ एफडी की दरें घटा भी दी गई हैं। पीएनबी ने 444 दिनों के एफडी पर ब्याज दर में बढ़ोतरी कर इसे 7.30 फीसदी से बढ़ाकर 7.75 फीसदी कर दिया है। वहीं 666 दिनों के एफडी की दरों को घटा दिया गया ​है। 

ICICI Bank ने बढ़ाईं FD दरें 

निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक ने भी ग्राहकों को फायदे की खबर सुनाई है। बैंक ने ब्याज की दरों को बढ़ाने का फैसला किया है। यह इजाफा बल्क फिक्स्ड डिपॉजिट पर किया गया है। बैंक ने 2 से 5 करोड़ तक के बल्क एफडी पर ब्याज दर को बढ़ाते हुए अगल-अलग टेन्योर के लिए अलग-अलग कर दिया है। 20 मई से नई दरें लागू हो गई है। ये हैं नई दरें। 














अवधि ब्याज दर
7-29 दिनों की FD  4.75 %
30-45 दिनों के लिए 5.50%
46-60 दिनों के लिए 5.75%
61-90 दिनों के लिए 6%
91-184 दिनों के लिए 6.50%
185-270 दिनों के लिए 6.65%
271 दिनों से 360 दिनों के लिए 6.75%
1 साल से डेढ़ साल के लिए 7.25% 
डेढ़ साल से 2 साल के लिए 7%
2 साल से 10 साल के लिए 6.75%

Latest Business News

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *