LIVE KHABAR

बड़ा खुलासा! उमेश पाल मर्डर केस में शामिल लोगों को अतीक अहमद ने बांटे थे कोड, जानें सभी की आईडी । umesh Pal murder case Atiq Ahmed had distributed the codes to the people involved in the case

[ad_1]

Atiq Ahmed- India TV Hindi

Image Source : FILE
अतीक अहमद और उसका भाई अशरफ

प्रयागराज: उमेश पाल मर्डर केस में एक बड़ा खुलासा हुआ है। माफिया डॉन अतीक अहमद ने अपने भाई अशरफ, बेटे असद और इस हत्याकांड में शामिल लोगों को कोड बांटे थे। ये लोग आपस में इन्हीं कोड वर्ड के जरिए बात करते थे। ये सभी आरोपी फेस टाइम पर कोड नेम से ID बनाकर बात कर रहे थे।

किस आरोपी का कौन सा कोड था?

BADE-006- ये फेस टाइम ID और कोड नेम अतीक अहमद का था।

CHOTE-007- ये कोड नेम अशरफ का था।

Ansh_yadav00- ये कोड नेम अतीक के बेटे असद का था।

Thakur008- ये कोड नेम गुड्डू मुस्लिम का था। ये वही गुड्डू मुस्लिम है जिसने बमबाजी की थी और फिलहाल पुलिस को इसकी तलाश है।

XYZZ1122- ये कोड नेम उमेश पाल की रेकी करने वाले आरोपी नियाज़ का था।

Bihar Tower- ये कोड नेम शूटर अरमान का था।

Advo010- ये कोड नेम अतीक के तथाकथित वकील खान सौलत हनीफ का था।

Patle- 009- ये कोड नेम अतीक के जेल में बंद बेटे अली का था। यानी ये साफ है कि उमेश पाल हत्याकांड के दौरान अली भी बाकी आरोपियों के साथ संपर्क में था।

आईफोन के फेसटाइम पर इसी कोड से बात करते थे आरोपी

सभी आरोपी आईफोन के फेसटाइम पर इसी कोड नेम आईडी का इस्तेमाल कर एक दूसरे से लगातार हत्याकांड के पहले और हत्याकांड के बाद बातचीत कर रहे थे। उमेश पाल के पड़ोस में रहने वाले ऑटो चलाने वाले नियाज़ को रेकी की जिम्मेदारी दी गई थी इसलिए इसको भी आईफोन दिया गया था। उमेश के पड़ोसी नियाज ने ही सभी शूटरों को उमेश पाल की मुखबिरी की थी, जिसके बाद हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

ये भी पढ़ें: 

कर्नाटक चुनाव: जेपी नड्डा ने जारी किया BJP का घोषणा पत्र, जानें मैनिफेस्टो में क्या है खास

अमेरिका में नहीं थम रही गोलियों की ‘रासलीला’, मिसीसिप्पी में पार्टी के दौरान फायरिंग, दो की मौत

Latest India News

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *