LIVE KHABAR

If someone can prove this then I…; Chief Minister of Assam spoke on the allegations against his wife| अगर कोई ये साबित कर दे तो मैं…; पत्नी पर लगे आरोपों पर बोले असम के मुख्यमंत्री

[ad_1]

असम के मुख्यमंत्री- India TV Hindi

Image Source : PTI
असम के मुख्यमंत्री

गुवाहाटी: असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा और लोकसभा में कांग्रेस के उप नेता गौरव गोगोई के बीच ट्विटर वॉर छिड़ गया है। दरअसल गौरव गोगोई ने असम के मुख्यमंत्री की पत्नी पर धोखाधड़ी से सब्सिडी लेने का आरोप लगाया है। इसके बाद से ही दोनों के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है।

 

गौरव गोगोई ने क्या आरोप लगाया?

कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने असम के मुख्यमंत्री की पत्नी पर आरोप लगाया है कि जिस जमीन पर उनकी कंपनी है, वो जमीन उन्होंने कृषि भूमि के तौर पर खरीदा था। जिसे बाद में औद्योगिक भूमि में परिवर्तित कर दिया गया और केंद्र सरकार से इसके लिए 10 करोड़ की सब्सिडी भी ली गई है। उन्होंने मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि इसके लिए उन्होंने अपने पावर का इस्तेमाल किया है।

उन्होंने एक ट्वीट करते हुए कहा कि, “भारत के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए PM मोदी ने किसान संपदा योजना की शुरुआत की। लेकिन असम में मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करके अपनी पत्नी की फर्म को क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी के हिस्से के रूप में 10 करोड़ रुपये दिलाने में मदद की। क्या केंद्र सरकार की योजनाएं भाजपा को समृद्ध करने के लिए हैं?”

गौरव गोगोई ने 13 सितंबर को एक ट्वीट में कहा कि, “खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट पर उस शख्स और कंपनी का नाम साफ तौर पर दिख रहा है जिससे वह जुड़ी हुई हैं। 10 करोड़ रुपये का सरकारी अनुदान भी स्वीकृत हो गया है।”

CM की पत्नी करेंगी मानहानि का दावा

मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा की पत्नी रिनिकी भुइयां सरमा ने X(पहले ट्विटर) पर ट्वीट करते हुए बताया कि, “प्राइड ईस्ट एंटरटेमेंट प्राइवेट लिमिटेड विभिन्न क्षेत्रों में व्यवसायिक हितों के साथ 2006 से काम कर रही है। यह एक कानून का पालन करने वाली कंपनी है जिसके सभी वित्तीय रिकॉर्ड सार्वजनिक डोमेन में है। एक लंबे और सफल व्यवसाय ट्रैक रिकॉर्ड के साथ, प्राइड ईस्ट एंटरटेनमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड- किसी भी अन्य योग्य उद्यम की तरह – सरकार समर्थित कार्यक्रमों/प्रोत्साहन योजनाओं में भाग लेने के लिए पात्र है। हालांकि, वर्तमान मामले में, पीएम किसान सम्पदा योजना से संबंधित, प्राइड ईस्ट एंटरटेनमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड ने न तो दावा किया है और न ही सभी पात्र मानदंडों को पूरा करने के बावजूद, सरकारी सब्सिडी का एक पैसा प्राप्त हुआ”

उन्होंने आगे लिखा कि, “मैं अदालत में उनके खिलाफ 10 करोड़ रुपये के नुकसान के साथ मानहानि का मामला दायर करने के लिए बाध्य हूं।”

CM हिमंत बिस्वा सरमा ने क्या कहा?

कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई द्वारा लगाए आरोपों पर जवाब देते हुए मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने एक ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि, “उत्तर स्वयं इस तथ्य को स्पष्ट करता है कि भारत सरकार ने उल्लिखित कंपनी को कोई धनराशि जारी नहीं की है। मैं एक बार फिर इस बात पर जोर देना चाहता हूं कि न तो मेरी पत्नी और ना ही वह जिस कंपनी से जुड़ी हैं, उसने भारत सरकार से कोई राशि प्राप्त की है या दावा किया है।”

उन्होंने आगे लिखते हुए कहा, “अगर कोई इसके खिलाफ साक्ष्य दे सके तो मैं सार्वजनिक जीवन से सेवानिवृत्ति सहित किसी भी प्रकार की सजा स्वीकार करने के लिए तैयार हूं।”

ये भी पढ़ें-

जम्मू-कश्मीर में हर समय तैनात रहती है सेना, आतंकियों से लोहा लेने के लिए बनी है ये स्पेशल बटालियन

बीजेपी के बाद अब कांग्रेस ने भी सांसदों के लिए व्हिप जारी किया, संसद के विशेष सत्र में मौजूद रहने का निर्देश

 

Latest India News

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *